life aur money blog for life and how to make extra money, best succeess, motivation and inspiring stories in hindi

Tuesday, 23 February 2016

वीरेंद्र सिंह उर्फ़ गूंगा पहलवान की motivation story


एक सच यह भी है की भारत (क्रिकेट के अलावा अन्य) में किसी भी खेल और उनसे जुड़े कई भारतीय खिलाडियों का कोई भविष्य नहीं है। अकसर समाचारो में किसी न किसी खिलाडी की दुर्दशा के बारे में जानकारी मिल ही जाती है।

lifeaurmoney.blogspot.in
वीरेंद्र सिंह उर्फ़ गूंगा पहलवान


लेकिन कई प्रतिभाशाली लोग कठोर परिश्रम और संघर्ष करके कई खेलो में आगे बढ़ रहे है और अपना नाम बना रहे है। ये कहानी ऐसे ही संघर्ष जीवन से जुड़े एथलीट पहलवान वीरेंद्र सिंह उर्फ "गूंगा पहलवान" की है।



वीरेंद्र सिंह बहरे और गूंगे है इस लिये वीरेंद्र, गूंगा पहलवान के नाम से भी जाने जाते है। अपनी ये विकलांगता के बावजूद, वीरेंद्र deaf (बहरा) एथलीट में खेलते हुये 2005 और 2013 के Melbourne Bulgaria Deaf Olympic international Olympic में स्वर्ण पदक जीते है और आज तक, वह ऐसा करने वाले एक मात्र भारतीय एथलीट है।



उनकी अन्य जित 2008 में Armenia में हुए दूसरे Deaf Olympic में स्लिवर मैडल, 2009 में Taipei में हुये World Deaf Wrestling Championships में रजत पदक और 2012 में Sofia, Bulgaria में हुये Deaf Olympic में कांस्य पदक शामिल है।



वीरेंद्र देश के लौटे बहरे पहलवान है जो सक्षम शरीर वाले पहलवान से भी लड़ सकते है। लेकिन कई बार वीरेंद्र की केंद्रीय खेल अधिकारयों द्वारा अनदेखी की गई। जीवित रहने के लिये वीरेंद्र अकुशल लोगों से मुकाबला करते है। इसके लिए उन्हें 5000 से लेके 100000 की राशि मिलती है। इसके जरिये वीरेंद्र international मुकाबले में हिस्सा लेते है।



लेकिन यह विडम्बना है या लोकशाही की अपरिपक्वता, साल 2016 के Riyo Olympic ने उनको शामिल न करने के लिये यह तर्क दिया गया की वो रेफरी की आवाज़ सुन नहीं सकते। वीरेंद्र इस बारे कहते है, में रेफरी के साथ सही आँख से संपर्क बनाये रख सकता हु।



जबकि International स्तर पर वीरेंद्र की जीतो के कारण ही मंत्रिपरिषद ने भारत की खेल निति में बधिरों के लिए  ख़ास खेलो की शुरुआत की गई। इस तरहा वीरेंद्र ने अन्य बधिर एथलीटों के लिए दरवाजे खुल दीए। इस से पहले बहरा एथलीटों को पेशेवर नहीं माना जाता था। अगले साल Riyo Olympic में वीरेंद्र हिस्सा ले सके इस लिए वीरेंद्र के समर्थन के लिये गूंगा पहलवान के नाम से एक documentary भी बनाई गई है।


Related post:-

अगर आपको ये article अच्छा लगा हो तो please मुझे comment के माध्यम से बताये और आपके Facebook friends से share करे।


आपके पास हिन्दी में कोई article, stories या कोई जानकारी हो जो हमसे share करना चाहते हो तो हमे अपने photo के साथ e-mail कीजिये। पंसद आने पे आपका article आपके photo के साथ publish किया जायेगा। हमारा e-mail id है lifeaurmoney@gmail.com



Share:

A request

दोस्तों, आपसे एक निवेदन है की हमारे प्रेरणादायक Article अपने Facebook friends या किसी और माध्यम से share करे ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग एसी Motivation, Inspiring और Success stories पढ़के अपने जीवन को बहेतर बना सके। अगर आपको ये Article अच्छा लगा हो तो please मुझे comment के माध्यम से बताये।

Support

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner